Hindi poem

इश्क !

तेरी रूह तक जाने का सफर,जो चाह तक रुक सा गया था !तुझसे राह में मिलने का पहर,पाने की चाह में गुम सा गया था !वो लाया ये मंजर है के बगावत कर ही लिए !ना मांगे दिल से इजाजत,महोबत कर ही लिए !ना सुलझी भी थी हकीकत,इबादत कर ही लिए !ना जाने वक्त का… Continue reading इश्क !

Hindi poem

नफरत से कुर्बत तक !

तेरे बातों से निकली चुभन दिलपे लगी है..जो नफरत बढ़ाए ये कैसी दिल्लगी है ? हम बातोमे उलझने वाले नहीं है..बातोमे ही खयाल सुलझने वाले कहीं है ! खयालों से नफरत गर दिल में पलेगी..कुरबत की राहें फिर कैसे खिलेगी ? गर मुद्दों को फैसले बनाके चलोगे..हकीकत के सिलसिले से कैसे मिलोगे ! जो नजर… Continue reading नफरत से कुर्बत तक !

Hindi poem

इक गुफ्तगू !

इश्क़ में दान करना पड़ता है, जां को हलकान करना पड़ता है। और तजुर्बा मुफ्त में नहीं मिलता, पहले नुकसान करना पड़ता है। उसकी बे लब्ज गुफ़्तगू के लिये, आंख को कान करना पड़ता है। फिर उदासी के भी तक़ाज़े हैं, घर को बीरान करना पड़ता है। - मेहशार आफरीदी इश्क़ में समर्पण हो, तो… Continue reading इक गुफ्तगू !

Hindi poem

सुनो !

अंधेरे को रोशनी से भर देना.. किसी चांद को मुट्ठी मे रख लेना ! रोते हुए बस यूंही हस देना.. मिठाई सी बातों को चख लेना ! घुस्से मे प्यार भी कर कर देना.. तीखासा मरहम लगा लेना ! नाराजी में राजी करवा देना.. शायरी से इस दिल को समझा लेना ! कभी रूठे, तो… Continue reading सुनो !

Marathi poem

गुरवे नमः !

देह चालतोय अनेक वाटा , नाम ते भागविते , तृष्णा ह्याची ! पार करतोय अनेक लाटा , तो दाखवितो मार्ग , आहे कृष्णा ज्याची ! काढतोय माझ्या पायातील काटा , शक्तीचा उगम आहे छाया त्याची ! मनातील निघतो कुडा कचाटा , स्मरण ती होता , रूपं याची ! गुरु माऊली जरा बसा या पाटा ,… Continue reading गुरवे नमः !

Hindi poem

कैसे ना मुड़ते ?

P.S. : Please use head phones 🙈 प्यार भरी आवाज़ की पुकार थी, कैसे ना मुड़ते ? मद भरी निगाहों की पुकार थी, कैसे ना मुड़ते ? किस नज़ारे पे अटकी थी नजर ? ये देखने की चाह थी, कैसे ना मुड़ते ? क्या मेरे मुस्कान से आंखों में थी कोई चमक? ये देखने की… Continue reading कैसे ना मुड़ते ?

#shayari

जमीं और आसमां ✨

क्षितिज एक छलावा है ✨ Horizon is a Mirage ✨ Earth is protecting many .. but it can meet the sky only when it reaches the heights of sky. Sky is giving shelter to many but it can meet Earth only when it liquifies, changes its original state and rains over land . Earth and… Continue reading जमीं और आसमां ✨

Hindi Quote

शिद्दत 🖤

🖤 When we are not able to understand whatever is happening . Whether it is a consequence of our own doing or it has just occurred as a change ... In any case we should live it to our fullest. With our hundred percent attention to what we are doing at that moment. If we… Continue reading शिद्दत 🖤

#shayari

और दिल पिघल गया 🙈

चेहरे की खूबसूरती जो हमने देखीजरूरी नहीं हर कोई समझे ..जो खूबसूरती हम देख रहे हैवो तो आपके रूह और खयालों से होकर गुजरी है ..चांद जला है जरूर परआपके चेहरे से झलकते उस तेज से..जो मुझ जैसे अंधे को भीजन्नत दिखा जाए।गम तो है के वो रात निगल गयापर खुशी है के हमारा दिल… Continue reading और दिल पिघल गया 🙈

#shayari

नदी मै 💙

जहां खो गए हैं बस उसी जगह को जहां मान ले तो ? शायद सारा जहां ही मिल जाए । राही खुद ही तो राह है मंजिल तक जाने की ..हर मोड़ पर एक राही खड़ा है देर है बस वहां थम जाने की ..मंजिल तक जाओगे गर संभलते संभलते.. फिर किसी राही से मिल… Continue reading नदी मै 💙